लोगो के अंदर जुनून मेरठ में 11 बजे तक हुआ 21.80 प्रतिशत मतदान
| Agency - 11 Apr 2019

लोकसभा चुनाव 2019 में आज मेरठ में आज जूनून देखने को मिल रहा है पहले चरण के मतदान को लेकर मतदाता खासे उत्साहित हैं। सुबह सात बजे से होने वाले मतदान को लेकर लोग करीब छह बजे से ही मतदान केंद्र पहुंचे गए। परन्तु मेरठ में दो घंटे में 11 प्रतिशत मतदान हो गया है। इसके बाद मतदान की गति में गति तेज़  हो गयी है ! और मेरठ में 11 बजे तक 21.80 प्रतिशत मतदान हो गया था। अभी भी हर केंद्र पर लंबी लाइन देखने को मिल रही हैं।

मेरठ में सर्वाधिक भीड़ कैलाश प्रकाश स्पोर्ट्स स्टेडियम में लगी हुई है। जहां पर लंबी लाइन लगी हुई  है। जिसमे  बीच दो बूथ पर ईवीएम में खराबी के कारण अभी मतदान में देरी हो रही है। इसके अलावा शहर में अन्य केंद्रों पर लोग मतदान कर रहे हैं।

मेरठ में कासमपुर के प्रेरणा पब्लिक स्कूल में तारापुर एन्क्लेब, बीसी लाइन व विक्रम बत्रा एन्क्लेव में सैनिकों के करीब 50 वोट हैं। इनमें से 15 अफसर अपने परिवार के साथ मतदान करने पहुंचे हैं। जिसमे काजीपुर गांव में प्राथमिक विद्यालय पर बने मतदान केंद्र पर लंबी लाइनों में लगकर लागों ने मतदान किया। लावड़ कस्बे में बूथ नंबर 252 पर ईवीएम खराब होने की वजह से सुबह साढ़े 8 बजे तक एक भी वोट नहीं डाली गई है।  ईवीएम बदलने में व ठीक करने मे कर्मचारी जुटे हैं। इसी मतदान केंद्र में बूथ संख्या 250 पर ईवीएम की खराबी के चलते एक घंटा देरी से मतदान शुरूआत  होने में देरी हुई !  कुछ मतदाता इंतजार करने के बाद बिना वोट डाले वापस लौट गए। 

तहसील रोड के प्राथमिक विध्यालय नंबर 1 के बूथ नंबर 146 के साथ सरूरपुर के पांचली बुजुर्ग गाँव मे बाद नंबर 29 पर ईवीएम मशीन में खराबी के कारण यहां मतदान बाधित हुआ। टीम ने जाकर मशीन बदली।


लोकसभा चुनाव 2019 ने बसपा ने शाहिद अखलाक को प्रत्याशी बनाया था। जिन्हें 27 प्रतिशत और सपा के शाहिद मंसूर को 19 प्रतिशत तथा कांग्रेस की नगमा को 4 प्रतिशत मिले थे। जबकि गठबंधन से हाजी मोहम्मद यूसूफ मैदान में है। कांग्रेस और भाजपा के प्रत्याशी व्यापारी वर्ग से है ऐसे में अगर व्यापारी कांग्रेस की तरफ मुड़े और मुस्लिम तथा भाजपा से नाराज अन्य वर्गो का समर्थन मिला तो लड़ाई त्रिकोणात्मक होगी और इसमें कोई भी चुनाव जीता सकता है। 


Browse By Tags