लोकसभा चुनाव मेरठ में शाम पांच बजे तक रहा 59.40 प्रतिशत मतदान
| Agency - 11 Apr 2019

लोकसभा चुनाव 2019 में आज मेरठ में पहले चरण के मतदान को लेकर मतदाता खासे उत्साहित हैं। मेरठ में दो घंटे में 11 प्रतिशत मतदान हो गया है। इसके बाद मतदान की गति में इजाफा हो गया। 11 बजे तक 21.80 प्रतिशत व दोपहर एक बजे तक 37.60 प्रतिशत, तीन बजे तक 51 प्रतिशत और फिर शाम पांच बजे तक 59.40 प्रतिशत मतदान हुआ है।


लोक सभा चुनाव 2019 मेरठ शहर विधानसभा में 61, मेरठ दक्षिण में 60.1 मेरठ कैंट में 56.7, किठौर विधानसभा में 65.83 सरधना में 64.44 सिवालखास में 65  व हस्तिनापुर 65% मतदान हुआ है। मतदान शाम 6:00 बजे तक चलेगा। मेरठ में विधानसभा की 7 सीटें हैं। इनमें सिवालखास, सरधना, हस्तिनापुर, किठौर, मेरठ कैंट, मेरठ शहर, व मेरठ दक्षिण भी शामिल हैं। लोकसभा चुनाव के लिए मेरठ में कुल 1198 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। जबकि 2740 मतदेय स्थल बनाए गए हैं। मेरठ जिले की सातों विधानसभा में कुल 25,36,837 वोटर हैं। जिनमें से 13,90484 पुरुष व 1146155 महिला वोटर हैं। जबकि मेरठ में दिव्यांग वोटरों की संख्या 11926 है। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के चलते बीच पूरे जिले में मतदान चल रहा है। इसके लिए जिला प्रशासन ने 22 जोनल ऑफिसर व 234 सेक्टर ऑफिसर नियुक्त किए हुए हैं।
 

मेरठ में सुबह 7:00 बजे जिले के सभी मतदान केंद्रों पर एक साथ मतदान हुआ प्रारंभ हुआ। प्रारंभ में कुछ जगहों पर ईवीएम खराब होने व न चलने की शिकायत मिली। जिस पर दर्जनों ईवीएम को जिला प्रशासन के निर्देश अनुसार पर बदला जा चुका है। इसके अलावा शहर में देहात के कई क्षेत्रों में हंगामा आदि भी हुआ। कुछ लोगों ने अपने वोट डालने व वोटर लिस्ट में नाम न होने की भी शिकायतें की। पूरे जिले से मतदान की सूचनाएं एकत्र करने के लिए कलक्ट्रेट परिसर में कंट्रोल रूम बनाया गया है। जिसमे चुआव आयोग ने पूरी सुरक्षा के पुख्ता इंतजान किये हुआ हैं 


कंट्रोल रूम में जिले से ईवीएम में आ रही दिक्कतों की शिकायतें आ रही हैं। जिनकी शिकायतों का का निस्तारण करने के साथ कलक्ट्रेट में बने कंट्रोल रूम में लोग लगे हैं। जिसमे अब तक 791 लोगों ने अपनी वोट के बारे में जानकारी प्राप्त की है। तहसील रोड के प्राथमिक विद्यालय नंबर 1 के बूथ नंबर 146 के साथ सरूरपुर के पांचली बुजुर्ग गाँव मे बाद नंबर 29 पर ईवीएम मशीन में खराबी के कारण यहां मतदान बाधित हुआ।  सुचना मिलते ही टीम ने जाकर वहाँ  की मशीन बदली।


Browse By Tags