किसानों को पीएम नहीं दिला पाए अधिकार: प्रियंका
| Agency - 15 May 2019


इंदौर/उज्जैन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रतलाम रैली के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी यहां पहुंचीं है और कांग्रेस उम्मीदवार कांतिलाल भूरिया के समर्थन में जनसभा को संबोधित किया। यहां उन्होंने विकास के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। प्रियंका गांधी ने कहा कि, पीएम मोदी विकास की बात करते हैं, लेकिन उन्होंने गरीबों और आदिवासियों का अधिकार छीना है। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि, पीएम मोदी खुद को तपस्वी बताते हैं कि लेकिन यही तपस्वी प्रधानमंत्री किसानों को उपज का सही दाम नहीं दिला पाए, हजारों किसानों की मौत पर तपस्वी प्रधानमंत्री मौन रहे। वो किसानों को बीज नहीं दिला पाए।
प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि, केंद्र में कांग्रेस सरकार बनते ही केंद्र सरकार के खाली पड़े 24 लाख पदों को भर दिया जाएगा। मनरेगा के तहत रोजगार का दायरा बढ़ाया जाएगा। किसानों के लिए फूड पार्क बनाए जाएंगे, जिससे आपकी उपज को सीधे बाजार मिलेगा। जिन छोटे व्यापारियों की जीएसटी से कमर टूट गई है। उनके लिए कांग्रेस सरल जीएसटी लाएगी। कर्जमाफी पर प्रियंका गांधी ने कहा कि, हम किसानों का कर्जा माफ करते हैं तो भाजपा के नेता हमारा मजाक उड़ाते हैं। रोजगार के मुद्दे पर कांग्रेस महासचिव ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने हर साल 2 करोड़ नौजवानों को रोजगार देने का वादा किया था, लेकिन एक भी नौजवान को रोजगार नहीं दिया। आज नौजवान रोजगार के लिए भटक रहे हैं नोट बंदी करके लोगों को लाइन में खड़ा कर दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्य प्रदेश के रतलाम में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस का नामदार परिवार पिकनिक के लिए देश के युद्धपोत का प्रयोग करता है और जब इस पर सवाल उठते हैं तो निर्लज्ज होकर जवाब देते हैं हुआ तो हुआ। पीएम ने हुआ तो हुआ के बरक्श ‘अब बहुत हुआ’ का नारा दिया और कहा कि हुआ तो हुआ कांग्रेस का अहंकार है।
पीएम ने भारत माता की जय के नारे लोगों से लगवाए और कहा कि कांग्रेस को इस नारे से दिक्कत है, उन्हें गाली देना अच्छा लगता है. लेकिन वे भारत माता की जय नहीं बोल सकते।
नरेंद्र मोदी ने कहा कि रतलाम के एक शहीद लेफ्टिनेंट धर्मेंद्र सिंह ने आग के दौरान अपने युद्धपोत को बचाते हुआ अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। दूसरी ओर ये नामदार परिवार अपने पिकनिक के लिए युद्धपोत का इस्तेमाल कर करता है। पीएम ने कहा, जब उनसे युद्धपोत के बारे में सवाल पूछा जाता है तो निल्र्लज होकर, बेपरवाह होकर, बिना डरे कहते हैं हुआ तो हुआ। पीएम ने कहा कि ये तीन शब्द नहीं कांग्रेस की विचारधारा और उनका अहंकार है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पनडुब्बी घोटाला हो या हेलिकॉप्टर घोटाला, इनका एक ही जवाब है हुआ तो हुआ. पीएम ने कहा कि कांग्रेस के राज में हमारे वीर सपूतों को बुलेटप्रूफ जैकेट तक नहीं मिल पाती थी, आतंकी और नक्सली हमलों में हमारे वीर साथी अपनी जान गंवा देते थे ये लोग कहते थे हुआ तो हुआ। भोपाल गैस कांड का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि इस खमियाजा लोग आज भी भुगत रहे हैं अगर उस बारे में बात की जाए, तो इनका अंदाज यही रहता है हुआ तो हुआ। नरेंद्र मोदी ने कहा कि कॉमनवेल्थ घोटाला करके इन्होंने देश की प्रतिष्ठा दांव पर लगा दी, लेकिन जवाब है, हुआ तो हुआ. नरेंद्र मोदी ने कहा ये महामिलावटी लोग कह रहे हैं- हुआ तो हुआ लेकिन जनता कह रही है अब बहुत हुआ।
कमलनाथ का मोदी पर तंज
भोपाल। राजनीतिक वाद-विवाद का दौर खत्म नहीं हुआ है और प्रत्येक राजनीतिक दल एक दूसरे पर आरोपों की बौछार करने से पीछे नहीं हट रहा है। हाल ही में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर दिए विवादित बयान के बाद विवादों के बादल छंटे भी नहीं थे कि एक बार फिर उन्होंने पीएम मोदी को लेकर तंज कसा है।
रतलाम में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि आपने कहा कि कर्ज माफ नहीं हुआ। मोदी जी हमने वचन दिया था। प्रदेश में 125 दिन पहले कांग्रेस की सरकार बनी और लोकसभा चुनाव की घोषणा हुई और आचार संहिता लग गई। मेरे पास 75 दिन थे और 75 दिनों में हमने 21 लाख किसानों का कर्ज माफ किया और हम वचनबद्ध हैं कि हम मध्य प्रदेश के हर किसान का कर्ज माफ करेंगे। हम प्रवचन नहीं निभाते, हम तो वचन निभाते हैं। मोदी जी याद रखिएगा अब आपका समय आ गया है। आप कहते थे, अच्छे दिन आने वाले हैं, लेकिन अच्छे दिन तो नहीं ला पाए अब मोदीजी जाने वाले है।
उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर टिप्पणी करते हुए कहा कि 5 साल का जवाब नहीं दे सकते। क्या बात करते हैं? देश की सुरक्षा की बात करेंगे। मोदी जी, जब आपने पैंट-पायजामा पहनना नहीं सीखा था तब पंडित जवाहरलाल नेहरू ने और इंदिरा गांधी जी ने हमारे देश की फौज बनाई थी।
बता दें 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान अच्छे दिन आने वाले हैं बीजेपी का चर्चित नारा था, ऐसे में अब बीजेपी के इसी नारे को लेकर कांग्रेस तंज कस रही है और केंद्र की मोदी सरकार से 5 सालों में किए कामों का हिसाब मांग रही है। वहीं इन दिनों मुख्यमंत्री कमलनाथ इन दिनों लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कस रहे हैं और उन्हें लेकर आक्रमक नजर आ रहे हैं। इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी भी कमलनाथ को सिख विरोधी दंगों का आरोपी बताते हैं।


Browse By Tags