ऐतिहासिक नौचंदी मेले का शुभारम्भ, पंजाबी गायकों ने लगाए चार चाँद
| Agency - 19 May 2019

ऐतिहासिक नौचंदी मेले का शनिवार को सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ आगाज हो गया। मंडलायुक्त, जिलाधिकारी और जिला पंचायत ने  परंपरागत तरीके से मेले का उद्घाटन किया। पंजाबी गायकों और कलाकारों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों से समां बांध दिया।

सांप्रदायिक सौहार्द को समर्पित मेला नौचंदी 347 सालों से आयोजित होता आ रहा है। परंपरा के अनुसार मेले का शुभारंभ होली के बाद पड़ने वाले दूसरे रविवार से होता था। इसी परंपरा का निर्वहन करते हुए मेले का उद्घाटन अभी भी इसी दिन होता आ रहा है। जबकि कई अन्य कारणों से पिछले लगभग दो दशक से मेला उद्घाटन के करीब 15 दिन बाद शुरू होता रहा है।

 इस बार लोकसभा की चुनाव आचार संहिता के कारण मेला तैयारी और व्यवस्था के ठेके न छूटने से मेला करीब डेढ़ माह देरी से शुरू हो रहा है। हालांकि परंपरा के अनुसार मेले का औपचारिक उद्घाटन मंडलायुक्त और जिलाधिकारी ने 31 मार्च को कर दिया था।

शनिवार को मेले के मुख्य द्वार के पास बनाये गये विशाल मंच से मंडलायुक्त अनीता सी मेश्राम, जिलाधिकारी अनिल ढींगरा, जिला पंचायत अध्यक्ष कुलविंदर सिंह, मेला आयोजन समिति के सदस्य मुखिया गुर्जर, ममता रत्नम, जिला पंचायत सदस्य मुकेश चरला आदि ने हवा में गुब्बारे और कबूतर उड़ाते हुए मेले का आगाज किया। इसके बाद सभी ने नवचंडी मंदिर में जाकर पूजा अर्चना करने के साथ बाले मियां की मजार पर चादर चढ़ाई। 

मेला उद्घाटन समारोह में स्वरूप फाउंडेशन द्वारा आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में पंजाबी गायब रणबीर और शिवजोत के साथ ही एक्ट्रेस टिया ठाकुर और तमन्ना सोढी व एक्टर और सिंगर गौरव नागपाल ने गीत और नृत्य की प्रस्तुति देकर शमा बांध दिया। मेला परिसर में मौजूद युवक ढोल की थाप पर कलाकारों के साथ जमकर झूमे। 

मेला उद्घाटन करके अधिकारी शाम 7.30 बजे तक लौट गए। लेकिन कलाकार नहीं पहुंचे। सभी कलाकार लगभग 8.30 बजे मेले परिसर के बीच खुले मैदान में बने मंच पर प्रस्तुति दी। जिसका अधिकारी लुत्फ नहीं ले पाये, लेकिन जनता ने जमकर मनोरंजन किया। 


Browse By Tags