फैक्टरी में धमाके से इंजीनियरों समेत तीन की जलकर हुई मौत
| Agency - 09 Jun 2019

रोजका मेव औद्योगिक क्षेत्र की एक फैक्टरी में रिपयेरिंग के दौरान ओवन फटने से दो चीनी इंजीनियरों समेत तीन लोगों की जलकर मौत हो गई। दमकल विभाग की पांच गाडि़यों ने काफी मशक्कत के बाद आग बुझाकर तीनों के शवों को बाहर निकाला।

प्रशासनिक अधिकारी फैक्टरी में लगी आग के कारणों की पड़ताल में जुटे हैं। रोजका मेव आइएमटी स्थित पुसलीन बायोटेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड फैक्टरी में पशुओं की हड्डियों का पाउडर बनाया जाता है, जिसे दवाइयों में प्रयोग किया जाता है।

इस पाउडर को भारी तापमान वाले ओवन में सुखाया जाता है। कुछ दिन पहले यह ओवन खराब हो गया था, जिसे ठीक करने के लिए चीन से चीफ इंजीनियर जीजीआन और प्रोडक्शन इंजीनियर झांग यांग आए हुए थे। रविवार को दोनों इंजीनियर ओवन ऑपरेटर गुरुग्राम के सोहना थानांतर्गत गांव दौला निवासी विक्की राजपूत के साथ ओवन ठीक कर रहे थे। इसी बीच जोरदार धमाके के साथ ओवन फट गया और आग लग गई। आग की चपेट में आने से तीनों की मौके पर ही मौत हो गई।
 
कुछ ही देर में आग फैक्टरी में भी फैल गई। कर्मचारियों की सूचना पर पहुंची दमकल विभाग की पांच गाडि़यों ने कई घंटे की मशक्कत के बाद आग बुझाई। इसके बाद पुलिस के सहयोग से तीनों के शव बाहर निकालने का प्रयास किया। शवों को बाहर निकालने में फैक्ट्री में रह-रहकर लग रही आग और ओवन फटने से हुए धमाके के बाद फैला कबाड़ बाधा बन रहे थे।

 

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार हादसा इतना जोरदार था कि धमाके के साथ ही एक शव क्षत-विक्षत हालत में बाहर आ गया था। देर रात किसी तरह दमकल और पुलिसकर्मियों ने तीनों शव बाहर निकलवाए।

तीनों शवों को हादसे के बाद काफी मशक्कत के कंपनी से बरामद कर नलहड मेडिकल कॉलेज ले जाया गया है। आग पूरी तरह से काबू में है। आग के कारणों का पता लगाया जा रहा है।


Browse By Tags


Related News Articles