मेरठ: आंधी-तूफान के साथ तेज बारिश, जगह -जगह जलभराव, पेड़ गिरे
| Agency - 15 Jul 2019

पश्चिमी यूपी के कई जिलों में सोमवार को तेज बारिश होने से मौसम ठंडा हो गया। मेरठ समेत कई जिलों जहां दोपहर को अंधेरा छा गया।आसमान में काले बादल छाने से दिन में अंधेरा हो गया। कई जगह मूसलाधार बारिश हुई। 
मेरठ में सोमवार सुबह से ही काले बादल छाए रहे जिसके बाद दोपहर को तेज आंधी के साथ झमाझम बारिश हुई। ठंडी हवाओं के साथ मेरठ व देहात क्षेत्रों में जमकर बारिश हुई। सरधना में हल्की बारिश से लोगों संतोष करना पड़ा। सहारनपुर व मुजफ्फरनगर में भी तूफान के साथ हल्की बारिश हुई। 

मेरठ में बारिश के कारण राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। आसमान में घने बादल छाने के कारण दिन में अंधेरा छा गया। सड़क पर गुजरने वाले यात्रियों को वाहनों की लाइट जलाकर निकलना पड़ा। हाईवे से गुजरने वाले लोगों को भी वाहनों की लाइटें जलानी पड़ीं। कई जगह पेड़ गिरने से यातायात प्रभावित हुआ।
 

तेज बारिश अलग-अलग क्षेत्रों में  लोगों को जलभराव की समस्या का सामना करना पड़ा। खैरनगगर से लेकर शहर के विभिन्न इलाकों में जबरदस्त जल भराव हुआ। पानी लोगों के घरों में भी घुस गया। वहीं सड़क पर जलभराव के कारण लोगों को पानी निकालने के लिए मशक्कत करनी पड़ी। 

हालांकि मानसून की बात करें तो मेरठ मुजफ्फरनगर समेत आसपास के इलाकों में मौसम वैज्ञानिकों ने 18 जुलाई तक बारिश की संभावना जताई है। हालांकि अच्छी बारिश से किसानों को काफी राहत मिलेगी क्योंकि धान के लिए इस समय बारिश उपयुक्त है। वहीं बारिश होने से तापमान में भारी गिरावट आई है जिससे आम आदमी को तपती गर्मी और उमस भरे मौसम से  काफी राहत मिली है। 


Browse By Tags


Related News Articles