सीमा सुरक्षा बल का एवरेस्ट विजय के साथ स्वच्छ हिमालय अभियान
| Agency - 31 May 2018

सीमा सुरक्षा बल, जो कि पाकिस्तान और बाांग्लादेश से लगती हमारी सीमाओां का रक्षक बल है, साहसिक अभियानों में अग्रणी रहा करता है। इसके साहसिक अभियानों में पर्वतारोहण भी शामिल है। अपने पर्वतारोहण अभियान के तहत इस बल के सदस्यों ने माउांट एवरेस्ट, कंचनजंघा और ऐसी ही हिमालयी  ऊँचाइयों कई बार छूआ है। हाल ही में, दिनांक 20 - 21 मई को, इस बल 15 सदस्यीय दस्ते ने एवरेस्ट फतह किया जो कि इस बल दूसरा सफल एवरेस्ट अभियान रहा। इसकी कमान सीमा सुरक्षा बल के सहायक कंमाडेंट पद्मश्री लवराज सिंह  के हाथों में थी जो रिकॉर्ड सात बार एवेरस्ट फतह किया हैं। यह अभियान इस मायने में खास रहा कि अभियान के दल सदस्यों ने मात्र एवेरस्ट फतह को ही अपना लक्ष्य नही चुना था, हिमालय स्वच्छ करने में अपना योगदान देना भी उनकी मंजिल थी। सीमा सुरक्षा बल अपने दोनों ही लक्ष्यों में सफलकाम रहे। एवरेस्ट को छूने के साथ ही इस दल ने वापसी यात्रा में अन्य पर्वतरोधी दलों छोड़े गये सामान साथ लाये और उनके उचित निस्तारण का बीड़ा भी उठाया। 
सीमा सुरक्षा बल इस पुनीत कार्य सराहना करते हुए 27 मई 2018 को प्रसारित हुए कार्यकम ‘मन की बात में माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने कहा  ‘एवरेस्ट पर चढाई करने कुछ जिन्होंने उनके पास न  केवल Skill है बल्कि वे Sensitive भी है । अभी पिछले दिनों स्वच्छ गंगा’ अभियान के तहत BSF के एक ग्रुप ने एिरेस्ट की चढ़ाई की, पर पूरी टीम एिरेस्ट से ढेर सारा कूड़ा अपने साथ नीचे उतार कर लाई।  यह कार्य प्रशंसनीय साथ ही साथ स्वच्छ के प्रति, पर्यावरण के प्रति उनकी प्रतिबद्धिा को भी दर्शाता है ।’’


Browse By Tags