BJP मुख्यालय का पता बदला, बोले पीएम मोदी- बजट से नहीं, सपनों से पूरे होते हैं ऐसे काम
| Parvesh Sharma - 22 Feb 2018

प्रवेश शर्मा

बीजेपी पहली बड़ी राष्ट्रीय पार्टी बन गई है, जिसका दफ्तर लुटियंस बंगलो क्षेत्र के बाहर है. दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने सभी दलों के दफ्तर लुटियंस क्षेत्र से बाहर ले जाने का निर्देश दिया था. बीजेपी का यह नया कार्यालय काफी हाईटेक होगा. पीएम मोदी और अमित शाह ने पिछले साल अगस्त में नये मुख्यालय की आधारशिला रखी थी और मुम्बई की एक प्रमुख आर्किटैक्ट कंपनी ने उसका डिजायन तैयार किया है। पार्टी के नये मुख्यालय में आधुनिक संचार सुविधाओं से लैस तीन भवन हैं 8000 स्क्वायर मीटर के प्लाट पर बनी हेडक्वार्टर की नई इमारत पारंपरिक साज सज्जा के साथ हाईटेक भी है. इसमें दो बिल्डिंगें बनी हैं. पहली बिल्डिंग तीन मंजिला और दूसरी सात मंजिला. इस नए मुख्यालय में 70 कमरे हैं. तीन मंजिला भवन में पार्टी अध्यक्ष का कमरा, लोकसभा में पार्टी के नेता और राज्यसभा में पार्टी के नेता का कमरा होगा. इसी तीन मंजिला विंग में सभी महासचिवों के कमरे भी हैं. इस भवन में दो डिटोरियम भी बनाए गए हैं. दोनों में एक की क्षमता 450 और दूसरे की 150 लोगों की है. देश के 18 राज्यों में शासन कर रही इस पार्टी का नया मुख्यालय अब 6, दीनदयाल उपाध्याय मार्ग हो गया है। पीएम मोदी ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और उनकी टीम को तय समय पर मुख्यालय के निर्माण का कार्य पूरा करने के लिए बधाई दी। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘ऐसे निर्माण कार्य बजट से पूरे नहीं होते, बल्कि सपनों से पूरे होते हैं। बीजेपी के कार्यालय के उद्घाटन समारोह में पीएम मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत शीर्ष पार्टी नेताओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। पीएम मोदी के संबोधन से पहले अमित शाह ने संबोधन दिया था।
परिसर के सभी 70 कमरों में वाई-फाई की व्यवस्था की गई है। तीनों बिल्डिंग में कॉन्फ्रेंस हॉल, रिसर्च रूम, डिजिटल लाइब्रेरी बनाई गई है। रेन वॉटर हारवेस्टिंग की भी व्यवस्था है।
बीजेपी के मुख्यालय अन्यत्र ले जाने से अन्य दलों पर भी ऐसा ही करने का दबाव पड़ सकता है क्योंकि उनमें से करीब करीब सभी दल दशकों से लुटियन जोन के बंगलों में अपना कार्यालय चला रहे हैं। भाजपा का कार्यालय अशोक रोड पर था, जबकि कांग्रेस का मुख्यालय अकबर रोड पर है ।


Browse By Tags