चौहान को भी नर्मदा मैया का सहारा
| Agency - 28 Jun 2018

भोपाल। कांग्रेस के नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने पत्नी के साथ नर्मदा यात्रा की और उससे पूर्व मुख्यमंत्री चैहान ने पिछले साल 15 मई 2017 को नमामि देवी नर्मदे सेवा यात्रा पूरी की थी सालभर बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रमुख संतों को पत्र लिखकर अवगत कराया है कि जिन महत्वपूर्ण कार्यों (घोषणाएं) की उस समय कल्पना की गई थी, वे या तो पूरे हो गए हैं या प्रारंभ हो गए हैं। उनके निर्माण की स्वीकृति दे दी गई है और कार्य भी शीघ्र प्रारंभ होगा। मध्य प्रदेश की जीवनदायिनी मां नर्मदा के उद्यम स्थल अमरकंटक में 11 दिसंबर 2016 को सेवा यात्रा के शुभारंभ के समय घोषणा की गई थी कि यहां गंदे पानी को रोकने के लिए सीवेज ट्रीटमेट प्लांट (एसटीपी) लगाया जाएगा, जो यात्रा प्रारंभ होने तक काम शुरू कर देगा। हकीकत यह है कि काम अब भी अधूरा है। नर्मदा सेवा यात्रा की नोडल एजेंसी जन-अभियान परिषद के उपाध्यक्ष प्रदीप पांडे ने इस बारे में बताया कि सारी कानूनी कार्रवाई पूरी हो गई है। टेंडर भी हो गया है। पांडे के मुताबिक इस काम को नगरीय प्रशासन विभाग के प्रमुख सचिव विवेक अग्रवाल देख रहे हैं। अमरकंटक को स्मार्ट सिटी बनाए जाने की भी घोषणा की गई थी। सेवा यात्रा के दौरान कई घोषणाएं की गई थीं। इनमें सबसे महत्वपूर्ण नर्मदा नदी में गंदे पानी को रोकने का काम था। इसके लिए अत्याधुनिक सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट डिंडौरी, मंडला से लेकर नर्मदा तट के सभी बड़े शहरों में बनाए जाने की योजना थी। 
 


Browse By Tags