दिल्ली में 15 अगस्त से पहले हथियारों का जखीरा मिला। 
| Agency - 09 Aug 2018

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 15 अगस्त के पहले दिल्ली में हथियारों का एक बड़ा जखीरा पकड़ा है. इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने 50 पिस्तौल, दो कार्बाइन, दर्जनों मैगजीन समेत 50 से ज्यादा जिंदा कारतूस बरामद किए हैं. पुलिस के मुताबिक छह अगस्त को स्पेशल सेल को जानकारी मिली थी कि दिल्ली में हथियारों की एक बड़ी डील होने वाली है. इसी जानकारी के आधार पर तफ्तीश करते हुए स्पेशल सेल की टीम ने धीरपुर इलाके से अजीमुद्दीन नाम के एक हथियार सप्लायर को गिरफ्तार किया. उसके पास से करीब 30 पिस्तौल,  दो कार्बाइन गन और जिंदा कारतूस बरामद हुए.  अजीमुद्दीन से पूछताछ के बाद आठ अगस्त को जीटी रोड से यूपी के कैराना इलाके के रहने वाले आस मोहम्मद को गिरफ्तार किया गया. उसके पास से भी 20 पिस्तौल और कारतूस बरामद किए गए. अवैध हथियारों की बाजार में कीमत कुछ तय थी. पिस्तौल की कीमत 10 से 15 हजार रुपये, कार्बाइन डेढ़ लाख रुपये, मैगजीन तीन से पांच हजार रुपये और कारतूस करीब 40 से 60 रुपये में बेचे जा रहे थे. स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव के मुताबिक बिहार के मुंगेर में लगातार हो रही छापेमारी के बाद हथियारों के  सप्लायरों ने अपना ठिकाना मुंगेर से बदलकर पश्चिमी बंगाल का मालदा बना लिया है. वैसे  15 अगस्त से पहले इतना हथियारों का मिलना चिंता का विषय है जिसने सुरक्षा एजेंसी की नींद उड़ा दी। 


Browse By Tags


Related News Articles