श्रृंगार के साथ औषधि भी है मेंहदी
| Agency - 18 Aug 2018

महिलाओं के लिए मेंहदी श्रृंगार की एक ऐसी वस्तु है जो न उम्र की सीमा मानती है और न जाति-धर्म की। हिन्दू घरों में बहन और बेटियां हाथों में मेंहदी रचाए घूमती हैं तो मुस्लिम महिलाएं भी मेंहदी लगाती हैं। मेंहदी को रचाने के लिए महिलाओं से ज्यादा पुरुषों ने इस हुनर को सीखा है। हिन्दुओं के पर्व रक्षाबंधन से लेकर करवा चैथ के पूजन तक मेंहदी रचाने के लिए भीड़ उमड़ पड़ती है। शादी से एक-दो दिन पहले बाकायदा में हदी रस्म बड़ी धूमधाम से मनायी जाती है। मेंहदी को हाथों में रचाने के साथ कुछ लोग बालों में भी लगाते हैं। खादी एवं ग्रामोद्योग विभाग ने तो हर्बल मेंहदी से बालों को नेचुरल काला रंग देने का सफल प्रयास किया है और दूसरे प्रकार के हेयर कलर से जहां कुछ लोगों को स्किन में एलर्जी की शिकायत हो रही थी उन्हें गांधी आश्रम की यह हर्बल ब्लैक मेंहदी बहुत पसंद आ रही है। इस सबका प्रमुख कारण है कि मेंहदी सिर्फ श्रृंगार का एक साधन भर नहीं है बल्कि इसमें औषधीय गुण भी पाया जाता है। सावन के महीने में महिलाओं-युवतियों को मेंहदी लगाने का शौक ज्यादा रहता है क्योंकि इस समय इसकी हरी-हरी पत्तियां बहुत ही अच्छा रंग देती हैं। मेहंदी सुहागिनों के श्रृंगार की महत्वूर्ण चीज है। महिलाओं के श्रृंगार में मेहंदी चार चांद लगा देती है। इसे शगुन के तौर पर लगाया जाता है। भारत जैसे देश में कोई भी त्योहार मेहंदी के बिना अधूरा माना जाता है। हर त्योहार पर महिलाएं अपने हाथों में मेहंदी लगाती है। जब सावन के महीने में मेहंदी की बात आए तो यह महीना त्योहारों का महीना होता है। तीज, राखी और सावन के सोमवार जैसे त्योहार खास है। जहां बारिश के मौसम में बूंदों के बीच मन हरा हो जाता है वहीं प्रकृति भी हरियाली से खिल उठती है। इसी तरह सावन के महीने में मेहंदी भी महिलाओं के हाथों में निखार ला देती है। मेहंदी लगाने के फायदें भी बहुत है जिन्हें जानकर आप हैरान हो जाएंगे। मेंहदी न सिर्फ आपके हाथों की खूबसूरती को बढ़ाती है बल्कि तनाव और सिरदर्द को भी दूर करती है। धार्मिक महत्व रखने के साथ-साथ मेंहदी लगाने का वैज्ञानिक कारण भी है।कई महिलाओं को गर्मी में बिना त्योहार मेहंदी लगाते हुए देखा होगा। मेहंदी की सबसे खास बात तो यह है कि जैसे गर्मी के बाद सावन आकर जमीन की गर्मी दूर करता है उसी तरह मेंहदी की तासीर ठंडी होती है और इसे लगाने से शरीर की गर्मी दूर होती है। हाथों और पैर के तलवों में मेहंदी लगाने से शरीर की गर्मी कम होती है। मेहंदी में कई औषधीय गुण भी शामिल हैं। आयुर्वेद में हरा रंग कई रोगों की रोक-थाम में कारगर माना गया है। मेंहदी लगाने से त्वचा संबंधी कई रोग दूर होते हैं।


Browse By Tags