रमन सिंह ने पुलिस भर्ती की आयु सीमा बढ़ायी
| Agency - 28 Sep 2018

रायपुर। छत्तीसगढ़ में राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में पुलिस भर्ती की आयुसीमा तीन साल बढ़ाने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया। बैठक में हथियारों के साथ सरेंडर करने वाले नक्सलियों के लिए इनामी राशि का भी निर्धारण किया गया है। मंत्रिपरिषद की बैठक में सीएम डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में शुरू हुई। छत्तीसगढ़ के इतिहास में यह अब तक की सबसे कम समय तक चलने वाली बैठक थी। विभिन्न विभागों के निजी सचिव मंत्रिपरिषद में रखी जाने वाली फाइलें और दस्तावेज कक्ष तक पहुंचाकर लौटे भी नहीं थे कि बैठक खत्म होने की सूचना आ गई। पूर्व निर्धारित दो फैसले पांच मिनट में ले लिये गए। युवाओं को लुभाने के लिए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। छग पुलिस कार्यपालिका (अराजपत्रित) सेवा भर्ती नियम के 8 (2) के अनुसार सूबेदार, उप निरीक्षक संवर्ग और प्लाटून कमांडर के पदों पर भर्ती की अधिकतम आयुसीमा को तीन साल के लिए शिथिल कर दिया गया है। यह नियम 2018 में होने वाली भर्ती में ही लागू होगा। अब तक पुलिस भर्ती के लिए अधिकतम आयुसीमा 28 साल थी अब यह बढ़कर 31 साल हो गई है। कैबिनेट के फैसले से राज्य के युवाआंे में खुशी की लहर दौड़ गयी है। इन पदों पर नियुक्ति के लिए अनुसूचित जनजाति वर्ग के पुरूष आवेदकों के लिए न्यूनतम ऊंचाई और सीने की माप में भी छूट दी गई है। इसके अलावा छत्तीसगढ़ में नक्सल पुनर्वास नीति को और बेहतर किया गया है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में आयोजित राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में हथियारों के साथ आत्म समर्पण करने वाले नक्सलियों के लिए अनुग्रह राशि में बढ़ोतरी की है। 


Browse By Tags